हाथ की ये रेखा बनाती है करोड़पति, बरसती है लक्ष्मी जी की कृपा


<script async src=”https://pagead2.googlesyndication.com/pagead/js/adsbygoogle.js?client=ca-pub-5905563197981443″

     crossorigin=”anonymous”></script>

हस्तरेखा के अनुसार हाथ की रेखा में व्यक्ति की धनवान होने का राज छिपा होता है. आपके हाथ में यदि ये रेखा है तो आपको धनवान बनने से कोई नहीं रोक सकता है.

भाग्य रेखा | Fate Line

करोड़पति हर व्यक्ति बनना चाहता है. हर व्यक्ति के इच्छा होती है कि उसके पास इतना धन हो की वो एक बेहतर जिंदगी को जी सके, अपने परिवार का ध्यान रख सके. हस्तरेखा विज्ञान के अनुसार ये तभी संभव होता है जब व्यक्ति के हाथों में भाग्य रेखा हो. भाग्य रेखा के बारे में ये कहा जाता है कि जिस व्यक्ति के हाथ में ये रेखा होती है तो व्यक्ति को धन के मामले में परेशानी नहीं उठानी पड़ती है. लक्ष्मी जी की विशेष कृपा प्राप्त होती है. आइए जानते हैं भाग्य रेखा के बारे में

भाग्य रेखा (Fate Line Palm)
भाग्य रेखा हर किसी के हाथ में नहीं पाई जाती है. भाग्यशाली हाथों में ही भाग्य रेखा पाई जाती है. हथेली पर यह रेखा चंद्र पर्वत से आरंभ होती है और बृहस्पति पर्वत पर समाप्त होती है. जिन हाथों में ऐसी रेखा पाई जाती है वे करोड़पति होते हैं. भाग्य रेखा मस्तिष्क और हृदय रेखा से होकर गुजरती है.

  • सीधी और दोष रहित भाग्य रेखा- भाग्य रेखा जितनी लंबी और दोष रहित होगी व्यक्ति किस्मत का उतना ही धनी होगा. ऐसे लोगों का जीवन सुख सुविधाओं से युक्त रहता है. ऐसे लोगों को जीवन में किसी प्रकार की कमी नहीं होती है.
  • दोष युक्त भाग्य रेखा भाग्य रेखा- छोटी और टूटी हुई हो तो व्यक्ति को जीवन में बाधा या संकट का सामना करना पड़ता है. टूटी हुई भाग्य रेखा जीवन में होने वाली हानि के बारे में भी बताती है.
  • सीधी भाग्य रेखा- सीधी भाग्य रेखा को सबसे अच्छी भाग्य रेखा माना जाता है. जो भाग्य रेखा चंद्र पर्वत से आरंभ होकर बृहस्पति पर्वत के पास समाप्त हो यह भाग्य रेखा सबसे अच्छी मानी जाती है. राहु स्थान से आरंभ होने वाली भाग्य रेखा व्यक्ति को जीवन में अचानक लाभ दिलाने वाली होती है. ऐसे लोगों को अचानक जीवन में धन की प्राप्ति होती है.
  • मजबूत भाग्य रेखा- हाथ में मजबूत भाग्य रेखा होने व्यक्ति धन लाभ के मामले में लकी होता है, लेकिन कई बार देखा गया है कि मजबूत भाग्य रेखा होने के बाद भी व्यक्ति को पूरा लाभ नहीं मिलता है. इसके लिए भगवान शिव की आराधना करनी चाहिए और घर मुख्य दरवाजे पर नित्य शाम को घी का दीपक जलाकर रखना चाहिए. ऐसा करने से माता लक्ष्मी प्रसन्न होती हैं और अपना आर्शीवाद प्रदान करती हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published.