If you want to learn something, learn from the ups and downs of your own life.

Read about failure so that we can open the garage of our mistakes and weaknesses.

जम्मू कश्मीर में आतंकियों की कायराना हरकत, सीआरपीएफ जवान को मारी गोली


<script async src=”https://pagead2.googlesyndication.com/pagead/js/adsbygoogle.js?client=ca-pub-5905563197981443″

     crossorigin=”anonymous”></script>

जम्मू और कश्मीर पुलिस के मुताबिक आतंकवादियों ने शोपियां के रहने वाले CRPF के जवान मुख्तार अहमद दोही पर गोलियां चलाई हैं. अस्पताल ले जाते समय जवान ने दम तोड़ दिया.

जम्मू कश्मीर में आतंकियों की कायराना हरकत (File Photo)

जम्मू कश्मीर में आतंकियों ने एक और कायराना हरकत को अंजाम देते हुए सीआरपीएफ जवान के ऊपर फायरिंग की है. जम्मू और कश्मीर पुलिस के मुताबिक आतंकवादियों ने शोपियां के रहने वाले CRPF के जवान मुख्तार अहमद दोही पर गोलियां चलाई हैं. अस्पताल ले जाते समय जवान ने दम तोड़ दिया. 

रिपोर्ट्स के मुताबिक जिस जवान पर आतंकियों ने गोलियां चलाईं, वो अपने घर छुट्टी पर आया हुआ था. पिछले तीन दिनों में आतंकी हमलों का ये चौथा मामला सामने आया है. पीटीआई के मुताबिक एक पुलिस अधिकारी ने बताया है कि इलाके की घेराबंदी कर दी गई है और हमलावरों को पकड़ने के लिए तलाशी अभियान भी शुरू कर दिया गया है.

इस हमले पर प्रतिक्रिया देते हुए उमर अब्दुल्ला ने लिखा पिछले 7-10 दिनों में ऑफ़-ड्यूटी सुरक्षा कर्मियों, मुख्यधारा के राजनीतिक कार्यकर्ताओं और नागरिकों की हत्याओं में उछाल आया है. शहीद सीआरपीएफ जवान मुख्तार अहमद के परिवार के प्रति मेरी संवेदनाएं हैं. जन्नत में उन्हें जगह मिले.

इस आतंकी वारदात से पहले जम्मू कश्मीर में सुरक्षा बलों के साथ तीन अलग-अलग मुठभेड़ में जैश-ए-मोहम्मद (जेईएम) के पाकिस्तानी कमांडर समेत चार आतंकवादी मारे गए और एक अन्य को गिरफ्तार किया गया है. पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि मुठभेड़ कश्मीर घाटी के पुलवामा, गंदेरबल और कुपवाड़ा जिलों में हुई. उन्होंने कहा कि दक्षिण कश्मीर में पुलवामा के चेवाकलां इलाके में रात भर चली मुठभेड़ में जैश-ए-मोहम्मद (जेईम) के दो आतंकवादी और एक पाकिस्तानी नागरिक मारा गया.

कश्मीर के पुलिस महानिरीक्षक विजय कुमार ने ट्वीट किया, ‘‘पुलवामा मुठभेड़ में मारे गए पाकिस्तानी आतंकवादी की पहचान जेईएम कमांडर कमाल भाई ‘जट्ट’ के रूप में हुई है. वह 2018 से पुलवामा-शोपियां इलाके में सक्रिय था और कई आतंकी अपराधों और नागरिक अत्याचारों में शामिल था.’’

,

Leave a Reply

Your email address will not be published.