बिना हॉलमार्क के Gold असली है या नकली, ऐसे कर सकते हैं आसानी से पहचान


<script async src=”https://pagead2.googlesyndication.com/pagead/js/adsbygoogle.js?client=ca-pub-5905563197981443″

     crossorigin=”anonymous”></script>

एक सरकारी बयान में शुक्रवार को इसकी जानकारी देते हुए कहा गया कि उपभोक्ता अब भारतीय मानक ब्यूरो (BIS) से मान्यता-प्राप्त जांच सुविधाओं में अपने बिना हॉलमार्क वाले सोने के आभूषणों (Gold Jeweleries) की भी शुद्धता जांच करवा सकते हैं. 

नई दिल्ली: उपभोक्ता अब भारतीय मानक ब्यूरो (BIS) से मान्यता-प्राप्त जांच सुविधाओं में अपने बिना हॉलमार्क वाले सोने के आभूषणों (Gold Jeweleries) की भी शुद्धता जांच करवा सकते हैं. 

इतनी कीमतों में करा सकेंगे जांच

एक सरकारी बयान में शुक्रवार को इसकी जानकारी देते हुए कहा गया, ‘सोने के 4 आभूषणों के परीक्षण का शुल्क 200 रुपये है. वहीं 5 या अधिक आभूषणों के लिए शुल्क 45 रुपये प्रति इकाई है.’ उपभोक्ता मामलों के मंत्रालय ने कहा कि अनिवार्य हॉलमार्किंग को सफलतापूर्वक लागू कर दिया गया है, जिसमें हर दिन 3 लाख सोने की वस्तुओं को HUID (हॉलमार्क विशिष्ट पहचान) के साथ प्रमाणित किया जा रहा है. 

उपभोक्ता को मिलेगी टेस्ट रिपोर्ट

बीआईएस ने ‘अब एक आम उपभोक्ता को BIS से मान्यता-प्राप्त एसेइंग एंड हॉलमार्किंग सेंटर (AHC) में से किसी में भी अपने बिना हॉलमार्क वाले सोने के आभूषणों की शुद्धता की जांच कराने की अनुमति देने का प्रावधान किया है.’ AHC को प्राथमिकता के आधार पर आम उपभोक्ताओं से सोने के आभूषणों का परीक्षण करना चाहिए और उपभोक्ता को एक परीक्षण रिपोर्ट प्रदान करनी चाहिए.

केयर ऐप पर कर सकेंगे वेरिफाई

बयान के मुताबिक, ‘उपभोक्ता को जारी की गई परीक्षण रिपोर्ट उपभोक्ता को उनके आभूषणों की शुद्धता के बारे में आश्वस्त करेगी और अगर उपभोक्ता अपने पास पड़े आभूषणों को बेचना चाहता है तो भी यह उपयोगी होगा.’ उपभोक्ता द्वारा खरीदे गए एचयूआईडी नंबर के साथ हॉलमार्क वाले सोने के आभूषणों की प्रामाणिकता और शुद्धता को बीआईएस केयर ऐप – ‘वेरीफाई एचयूआईडी’ का उपयोग करके भी सत्यापित किया जा सकता है, जिसे प्ले स्टोर से डाउनलोड किया जा सकता है.


Leave a Reply

Your email address will not be published.