क्या सचमुच में होने वाला है तीसरा वर्ल्ड वॉर? मैथ के इस फॉर्मूले से मिल रहे संकेत


<script async src=”https://pagead2.googlesyndication.com/pagead/js/adsbygoogle.js?client=ca-pub-5905563197981443″

     crossorigin=”anonymous”></script>

एक ट्विटर यूजर ने प्रथम विश्व युद्ध, द्वितीय विश्व युद्ध और यूक्रेन पर रूसी आक्रमण की शुरुआत की तारीखों के बीच एक भयानक समानता देखी है.

एक शख्स ने प्रथम विश्व युद्ध, द्वितीय विश्व युद्ध और यूक्रेन पर रूसी आक्रमण की शुरुआत की तारीखों के बीच एक असामान्य संबंध देखा है. सभी तिथियों की संख्या को जोड़ने पर 68 अंक आते हैं. कुछ लोगों ने इस फॉर्मूले को चौंकाने वाला पाया, जबकि कुछ ऐसे भी हैं जिन्हें इस पर विश्वास नहीं.

इस शख्स ने विश्व युद्ध से जोड़े तार

पैट्रिक बेट-डेविड (Patrick Bet-David) ने 28 जुलाई 1914 को देखा, जिस तारीख को ऑस्ट्रिया-हंगरी ने प्रथम विश्व युद्ध की शुरुआत करते हुए सर्बिया पर युद्ध की घोषणा की थी. पैट्रिक ने 7, 28, 19, 14 को एक साथ जोड़ा और परिणाम 68 था. इसके बाद उन्होंने द्वितीय विश्व युद्ध की शुरुआत की तारीख- 1 सितंबर, 1939 ली. यह तारीख भी 68 की संख्या में जुड़ जाती है. 

पुतिन ने इस दिन किया था युद्ध का ऐलान

इसके बाद पैट्रिक ने उस दिन की तारीख चुनी, जिस दिन रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने यूक्रेन के खिलाफ युद्ध की घोषणा की. यानी 24 फरवरी 2022 और इसका भी कुल योग 24+2+20+22 = 68 हो रहा है. पैट्रिक ने तारीखों के बीच संबंध साझा करते हुए ट्वीट किया, ‘मेरे लिए सब कुछ एक गणितीय सूत्र है. यह अजीब है.’ यह ट्वीट माइक्रोब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म पर वायरल हो गया है, जिसे 12,000 से अधिक लाइक और 3,500 से अधिक बार रीट्वीट किया गया है.

ट्विटर यूजर्स ने दिए ऐसे अजीबोगरीब रिएक्शन

एक यूजर ने कहा, ‘यह तो अजीब है’. एक अन्य ने लिखा, ‘इसे स्वीकार करना होगा, लेकिन यह थोड़ा अजीब है.’ किसी ने नोट किया, ‘गणित में 68 एक पेरिन संख्या है. यह दो अलग-अलग तरीकों से दो अभाज्य संख्याओं का योग होने वाली सबसे बड़ी ज्ञात संख्या है: 68 = 7+61 = 31+37. दुनिया गणितीय मॉडल में चलती है. भविष्य बताने वाला विश्लेषण सभी गणितीय मॉडल हैं. इसलिए आपने जो शेयर किया है, मैं उसका मूल्य समझ सकता हूं.’

एक ट्वीट में लिखा था, “मुझे नफरत है जब लोग ऐसा करते हैं जैसे कि यह एक भविष्यवाणी है. आप जानते हैं कि इस साल हर महीने कम से कम 1 दिन ऐसा होता है जो 68 संख्या से जोड़ा जा सकता है? ऐसा होने की संभावना बहुत कम नहीं है.’ एक अन्य ने लिखा, ‘क्या इसका कोई मतलब है? शायद नहीं, लेकिन फिर भी यह दिलचस्प है.’


Leave a Reply

Your email address will not be published.